2022-05-16

पंचायत के सामने कुंआरेपन की जांच हुई, लाल धब्बों वाली चादर दिखाई गई, बिस्तर पर झक सफेद चादर बिछा दी जाती कोई दाग न हो दुल्हन की परीक्षा लेगी, दूल्हा-दुल्हन अंदर बंद दरवाजा खटखटाकर पूछते हैं- ‘काम हो गया!’ संकोच करने पर डेमो’ देने का भी रिवाज, दूसरा जोड़ा उनके सामने संबंध बनाकर दिखाता कल रात तुम्हें जो माल मिला, वो खरा निकला या खोटा’, दूल्हे को कपड़े पर खून का ताजा धब्बा दिखा

पंचायत के सामने मेरे कुंआरेपन की जांच हुई लाल धब्बे वाली चादर दिखाई गई पति बोला दुल्हन खरी है खरी है खरी है लड़के से पूछते हैं कि लड़की मिली वह खरी निकली या खोटी सुबह पंचायत बैठती है जहां दूल्हा-दुल्हन भी होते हैं और 5 लड़के से पूछते हैं कि रात में तुम्हें जो माल मिला वह खरा निकला या कोटा लड़की कुंवारी हो या नया-नया पति शान से कहेगा माल करा था लेकिन रुकिए परीक्षा अभी अधूरी है सोने के खड़े पनकी यह भी उतनी करीब नहीं होती जितनी कुमारी पन्या वर्जिनिटी की है पंचायत में कुमार अपन के ऐलान के बाद में लोग एक सफेद कीर्ति कीर्ति जमा होते हैं और यह को चादर है जिस पर दुल्हन रात में सोई थी इस पर लगा खून का धब्बा तय करता है कि लड़की बेदाग है यह मार्च 2022 की घटना है पुणे की खूबसूरत होते होते हुए यह बता पहुंचेंगे जहां पर दुनिया बदलने लगी है लेकिन चूड़ी चमके लिए सर के संभालने लगती है ऐसे में तने हुए कंधे झुक जाते हैं जब गोल हॉट बनाकर अंग्रेजी बोलती जबान से एकदम मराठी जलने लगती है यार बता के भीतर छोटी-छोटी कई बस्तियां है हर एक की अलग-अलग कहानियां

 

 

 

 

 

रंग की साड़ी और सुंदर एक डायल की झड़ी पहने हुए तुम को देखकर शायरी में अंदाजा लगा सकता है कि परंपरा के नाम पर उन्होंने वर्जिनिटी टेस्ट होगा खुले पद से बोलती 32 उमर लगभग घंटे भर बातचीत में कंजर बार सोसाइटी की एक-एक पल कर रख देती है अगर दूल्हे के कपड़े पर खून का ताजा धब्बा दिखा तो लड़की खड़ी है वरना शादी टूटेगी या जिंदगी भर आने का उपहार मिलेगा शादी के तुरंत बाद लड़की लड़के को लोजा होटल ले जाते हैं पहुंच कर लेते ही सबसे पहले चलता है सर्च अभियान कमरे की अलमारी दरवाजे खोल कर देखा जाता है कि वहां कोई सीन या दूसरी नौकरी चीज तो नहीं लड़की के सारे गहने उतरवा दिए जाते हैं बालों में क्लिप निकाल दी जाती है आज की चूड़ियां भी दिल्ली जाती है ताकि चूड़ी से जख्म करके लड़की खून निकाल सके और एक पोटली में सारी चीजें जमा की जाती है

 

 

 

अब बिस्तर पर झक सफेद चादर बिछा दी जाती है चादर कोरी हो या फिर कोई दाग न हो यह सफेदी दुल्हन की परीक्षा लेगी गरी के सोया घूम रही है दरवाजे के बाहर दोनों तरफ के परिवार बैठे होते हैं और हर थोड़ी देर में दरवाजा खटखटा थे पूछते हैं कि काम हो गया या नया जोड़ा संकोच कर रहा है उसे डेमो देने का भी रिवाज है इसके बाद में दूसरा उनके सामने संबंध बनाकर दिखाता है और उन्हें भी इसी तरह करना है कार्यक्रम के बाद में सफेद चादर को जस का तस समेट कर रख लिया जाता है यही वह अमानत है जो अगले रोज बैठक में पेश की जाएगी शाम के आंखें से चल रहा होता है कि सुमन कुछ इस तरह से बता रही है वर्जिनिटी टेस्ट के बाद में सड़क से सटे हुए चौक पर पंचायत बैठती है दुल्हन को सारे गहने पहना का लाया जाता है और दूल्हे के पास बैठती है पूरा समाज जमा होता है इस बैठक में कड़कती हुई आवाज आती है कल रात में जो माल मिला वह खड़ा निकला या फोटो अगर दूल्हे को कपड़े पर खून का ताजा दगा धब्बा दिखा तो वह लड़की को खराब बताएगा यह सवाल लगातार तीन बार पूछा जाता है जिससे अब सुन सके बिरादरी वाले भी और सड़क से गुजरने वाले लोग यहां पर गुंडे हर कोई सुनता है हर कोई सुनता है कि लड़की बदचलन है या सच्ची

 

 

 

एक ऐसी ही कहानी को तलाशते हुए हम पहुंचे भाट नगर व कंजारभाट समुदाय रहता है और कच्ची शराब बनाने यह समुदाय में वह भी खुला बंद है लेकिन शादी के वक्त लड़की हुई होनी चाहिए इसके लिए वर्जिनिटी टेस्ट होता है जिसमें नाकामयाब लड़की सारी उम्र चलनी के ताने सुनती है या फिर शादी टूटने का दर्द सही है साल की थी जब दूल्हे के साथ मुझे जबरदस्ती होना पड़ा सब ने बताया कि यह लड़की के साथ होता है इसी के घर में इज्जत है मैंने बात मान ली लेकिन कुछ साल बाद में तय कर लिया कि अपनी या दूसरी बेटियों के साथ में ऐसा नहीं होने दूंगी मैं विरोध करने लगे सफेद चादर देखने आए लोगों के बीच पहुंचकर बोलने लगी इस से काम नहीं बना तो पुलिस को कॉल करने लगी लोग भड़क गए सब को लगा कि मैं समाज को गंदा कर दूंगी अब हमारा पूरा परिवार जात बाहर है ना कोई शादी में बुलाता है मैं किसी प्रकार से और कुछ में ऐसे में यह बताते हुए लगभग 45 वर्ष की सुमन के चेहरे पर 10 से ज्यादा गुस्सा था और इमेज जो मेरे साथ हुआ है वह किसी दूसरे के साथ ना हो

 

 

 

दुल्हनिया लड़की को खोटी कर दिया तो उसकी शामत आ जाती है पिटाई होने लगती है लड़के वाले उसके परिवार को कोसने लगते हैं शादी टूटने तक चली जाती है कई बार शादियां खत्म हो जाती है कई बार कुछ महीने या कुछ साल बाद में मायके में रहने लग जाती है और सजा के बाद में लड़की ससुराल में लाई जाती है और रोज उसके साथ में बदचलन कहलाने के लिए उसके लिए किसी भी तरह से हंसने बोलने पर मनाई रहती है किसी पुरुष से बात नहीं कर सकती घर के बाहर तो बिल्कुल भी नहीं जा सकती और छोटी लड़की सारी उम्र तानो और मारपीट के साथ में जिंदगी बिताती है मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ मैंने यह सब पूछना है अपनी बेटी को बचा लिया हमने रिश्ता तय होने से पहले ही बात कर ली है उसका वर्जिनिटी टेस्ट नहीं होने देंगे जिन्हें मंजूर नहीं था वह रिश्ता टुकड़ा कर चले गए जिनको बात जमी वो आज मेरे जमाई दामाद है यह बताते हुए सुमन की आवाज से ज्यादा उनकी आंखें गर्व की गवाही बता रही थी सुमन समेत कई समुदाय के कई परिवार जात बार हो चुके हैं और वे इंसानियत पर भरोसा करते हैं साइंस की भी यही छोरी है थोड़ी बहुत समझ है ऐसी कई महिलाओं से मुलाकात के बीच में हमारी एक नजर एक खास चेहरे पर जाति की जो मुंह के साथ खुली हंसी वाला जनाबाई पर जैसे आम की पेटी में एक सड़ा हुआ फल सब खराब कर देता है वही हाल है लड़कियों का है
बड़ों ने अगर यह नियम बनाया है तो सोच समझकर ही बनाया होगा करण भाट ऐसा बता रहा है उमर पूछने पर कहती है कि 2 जोड़ी हूं भरे पूरे परिवार की जनाबाई के पास में कोई दर्द नहीं है कच्ची उम्र में शादी हो गई लगभग दुगनी उम्र का पति है दो पत्नियां है औलादे छोड़कर मर चुकी थी शादी के बाद में एक के बाद में एक 12 बच्चे हुए लेकिन जनाबाई के लिए यह सब तकलीफ रही वह कहती है कि पति गुजर गए लेकिन साथ में भरा पूरा परिवार है कुछ लोगों से बातचीत भी करते हैं हमें ऐसे में सभी ने यहां पर जैसे ही अलग-अलग चीजों को बताया यहां कोई वर्जिनिटी टेस्ट कब नहीं होता है पहले होता था कुछ लोग यहां पर भाग रहे थे कुछ आंखें बीच में जाकर भाषा में समझने का बहाना करने लगे फिर हमारी मुलाकात एक ऐसे शख्स है
जो बिना यह सब कुछ कह जाता है ऐसे में वहां का सरपंची का भाई था कुर्सी पर बैठे हो गए हमसे आईडी कार्ड मांगा जाता है पर चलते हुए खो जाने वाला करती हूं और मां से दूर से आए हैं अब आप ही मदद कीजिए पुरुष को संतुष्ट होता है करण खाते हैं जिसमें सड़ा हुआ फल खराब कर देता है सभी को ऐसे में समाज के बडोनिया के नियम बनाया है तो सोच समझ कर बनाया है इसके पड़ती है उसे बंद कर दिया जाता है इसके बाद में गांव में एक लड़की की खुदकुशी की खबर आती है 29 साल की लड़की किसी कंपनी में काम करती थी पूरे उफान से एचआर मैनेजर थी और डांस भी सिखाती थी मामला पंचायत में गया पिता को दुख हुआ पुलिस में शिकायत नहीं कर पाई आजा तो उसका ससुराल से ही उठेगा हारी और मरी हुई लड़की का जिक्र करते हुए उनके चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान थी हमारे बगल की कुर्सी पर पानी की बोतल रखी है प्यार से गला सूख रहा है लेकिन दिल नहीं मांगता बैग संभालते हुए हमें चुपचाप उठ कर वहां से आ जाते हैं
Spread the love
Copyright © All rights reserved jaihindustannews | Newsphere by AF themes.