2023-12-28

Lok Sabha Elections: राजस्थान में 4.84 करोड़ मतदाता कर सकेंगे मताधिकार का प्रयोग

जयपुर। लोकसभा चुनाव से पूर्व मतदाता सूचियों के संक्षिप्त पुनरीक्षण (अर्हता एक जनवरी, 2019) के तहत मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन शुक्रवार को कर दिया गया।

अंतिम प्रकाशन के अनुसार राज्य में कुल 04 करोड़ 84 लाख 79 हजार 229 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसमें 02 करोड़, 52 लाख, 64 हजार, 998 पुरुष और 02 करोड़ 32 लाख 14 हजार 231 महिला मतदाता हैं। कुल मतदाताओं में 12 लाख 82 हजार 118 मतदाता 18-19 आयु वर्ग के हैं। साथ ही 01 लाख 22 हजार 944 सर्विस मतदाता भी हैं।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डाॅ. रेखा गुप्ता ने सचिवालय स्थित समिति कक्ष में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ आयोजित बैठक के दौरान कहा कि संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान प्रदेश भर से कुल 12 लाख 89 हजार 598 आवेदन स्वीकार किए गए हैं।

इनमें 06 लाख 53 हजार 764 पुरुष और 06 लाख 35 हजार 834 महिलाओं ने नाम जुड़वाने के लिए आवेदन किया है। इसी तरह 04 लाख 75 हजार 163 आवेदन नाम हटवाने के आए हैं, जिसमें 02 लाख 32 हजार 356 पुरुष और 02 लाख 42 हजार 807 महिलाओं ने नाम हटवाने के लिए आवेदन किया है।

इनमें अनुपस्थित, मृत, स्थानांतरित आदि शामिल हैं। आवेदनों की पड़ताल और भौतिक सत्यापन के बाद मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन में कुल 08 लाख 06 हजार 364 नए मतदाताओं का नाम जोड़ा गया।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में 04 करोड़ 84 लाख 68 हजार 263 (99.98 प्रतिशत) फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र धारक हैं। उन्होंने बताया कि मतदाता सूची में जोड़े गए नए नामों के आधार पर मतदाता पहचान पत्र आगामी दिनों में बना दिए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कुल 51 हजार 965 मतदान केंद्र हैं।

जिन मतदाताओं के नाम पूर्व में मतदाता सूचियों में हैं वे भी अपना नाम मतदाता सूची में एक बार जांच लें। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा ‘मतदाता सत्यापन एवं सूचना कार्यक्रम’ के अंतर्गत मतदाता सूची में नाम खोजने एवं नाम जुड़वाने के लिए कई तरह की सुविधाएं दी गई हैं।

कोई भी व्यक्ति मुख्य निर्वाचन अधिकारी, राजस्थान की वेबसाइट (www.ceorajasthan.nic.in) से या (www.nvsp.in) के माध्यम से मतदाता सूची में अपनी प्रविष्टि की जानकारी प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा निर्वाचन विभाग के मोबाइल ऐप ‘राज-इलेक्शन’ के माध्यम से भी अपनी प्रविष्टि की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के काॅल सेंटर 1950 के माध्यम से भी नाम की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

दो और तीन मार्च को होगा विशेष अभियान, जोड़े जाएंगे नाम
मतदाता सत्यापन और सूचना कार्यक्रम (वीवीआईपी) के अंतर्गत दो और तीन मार्च को प्रदेश के सभी मतदान केंद्रों पर विशेष अभियान के तहत पात्र मतदाताओं के नाम जोड़े जाएंगे।

दोनों दिन प्रातः नौ से शाम छह बजे तक बीएलओ राज्य के सभी 51 हजार 965 मतदान केंद्रों पर उपस्थित रहकर आवेदन लेंगे। जिन मतदाताओं की उम्र एक जनवरी, 2019 को 18 वर्ष पूरी हो चुकी है, वे मतदाता अपना नाम मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

डाॅ. गुप्ता ने बताया कि मतदाता सूचियों में नाम जोड़ने का कार्य इन तिथियों के आगे भी चलता रहेगा। उन्होंने बताया कि नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि से 10 दिन पहले तक पात्र मतदाता अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करवा सकता हैं। उन्होंने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से बूथ स्तर के अभिकर्ताओं को भी इन दोनों दिन उपस्थित रहते हुए प्रविष्टियों का सत्यापन कर बीएलओ को सहयोग प्रदान करने का आग्रह किया है।

बैठक में कांग्रेस पार्टी के सुशील शर्मा, भारतीय जनता पार्टी के नाहर सिंह माहेश्वरी और कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के नरेन्द्र आचार्य, अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डाॅ. जोगाराम, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी (आईटी) एमएम तिवारी, उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनोद पारीक, सहायक मुख्य निर्वाचन अधिकारी भगवत सिंह सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

About Author

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved jaihindustannews | Newsphere by AF themes.