2022-05-16

जानिए, भौतिक वातावरण और वायुमंडल मेंअंतर

डेस्क। वायुमंडल से आशय पृथ्वी के चारों और विस्तृत ऐसे आवरण से है। पृथ्वी पर स्थित अन्य मंडलों की भांति वायुमंडल जैविक व अजैविक कारकों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि वायुमंडल की संरचना वह संगठन जी वो वह वनस्पति की क्रियाओं को प्रभावित करते हैं। वायुमंडल में जलवाष्प एवं धूल कणों का मिश्रण है।

वायुमंडल में उपस्थित गैस पौधों के प्रकाश संश्लेषण ग्रीन हाउस प्रभाव तथा जीव वनस्पतियों को जीवित रहने के लिए एक आवश्यक होता है। वायुमंडल की संरचना के भाग शॉप मंडल तथा समताप मंडल पर्यावरण को महत्व पूर्ण रूप से प्रभावित करते है।

भौतिक संगठक के अंतर्गत सामान्य रूप से स्तर मंडल वायु मंडल तथा जल मंडल को सम्मिलित किया जाता है। इन्हें कर्म से मृदा वायु तथा जल संगठन भी कहा जाता है। यह तीनों भौतिक संगठक पारितंत्र के उप तंत्र होते हैं। भौतिक वातावरण वायु प्रकाश जल मृदा जैसे कारकों से बना होता है। यह अजैविक कारक जीव की सफलता का निर्धारण एवं उनकी बनावट जीवन चक्र शरीर क्रिया विज्ञान तथा विवाद पर प्रभाव डालते हैं। जीवो के विकास तथा प्रजनन पर जैविक कारकों का भी प्रभाव पड़ता है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved jaihindustannews | Newsphere by AF themes.