2022-06-25

Gujarat New CM गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर भूपेंद्रभाई पटेल शपथ ग्रहण समारोह में, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल

गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में रूपेंद्र पटेल ने शपथ ले ली है और गृह मंत्री अमित साहनी ने बधाई दी है यहां पर गुजरात में जो मुख्यमंत्री के रूप में भूपेंद्र पटेल ने आज शपथ ली है और यहां पर शपथ ग्रहण में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद थे गुजरात के गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री बन गए हैं आज भूपेंद्र पटेल अपने समर्थकों के बीच में आज दादा के नाम से मशहूर भूपेंद्र भाई रजनीकांत भाई पटेल ने आज सोमवार सबसे मुख्यमंत्री के रूप में राजभवन में शपथ ग्रहण किया गया था जिसमें शपथ ली थी और यहां पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी शपथ ग्रहण समारोह के बाद में गुजरात के नए सीएम भूपेंद्र पटेल को बधाई दी है यहां पर समारोह में हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर एक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गोवा के मुख्यमंत्री सीएम प्रमोद सावंत समेत बीजेपी शासित राज्य के सीएम भी मौजूद रहे

 

गुजरात में भूपेंद्र भाई पटेल को मुख्यमंत्री बनाया गया है और यहां पर है आज के जो बीजेपी के मुख्यमंत्री है यह सभी जहां शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए हैं साथ में यहां पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद थे जहां पर एक जातीय वर्ग समुदाय को जोड़ने के लिए ऐसा बदलाव किया गया है और यहां पर बीजेपी द्वारा यह एक अच्छी पहल हुई है ऐसे में यहां पर बीजेपी द्वारा ऐसा देखा जा रहा है कि अगले साल जो 1 साल बाद में यहां पर जो गुजरात में विधानसभा चुनाव होंगे ऐसे में यहां पर पाटीदार समूह जो बीजेपी से नाराज चल रहा है ऐसे में जहां भूपेंद्र भाई पटेल को मुख्यमंत्री बनाया गया है और यहां पर इसे समुदाय को जोड़ने के लिए इसके वोटों को यहां पर अदला-बदली के हिसाब से यहां पर राजनीति में एक बड़ा दांव पर चला गया है और पाटीदार समूह के यहां पर भूपेंद्र भाई पटेल पहली बार विधायक बने हैं उन्हें यहां पर मुख्यमंत्री बनाया गया है आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जब पहली बार विधायक बने थे और यहां गुजरात में जब विधायक बनने के बाद में इन्हें मुख्यमंत्री बनाया था तो इनके पास भी किसी प्रकार का कोई कैबिनेट मंत्रालय नहीं था इन्हें विधायक से डायरेक्ट यहां गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया था

 

यहां पर शनिवार को विजय रुपाणी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दिया था जिसके बाद में आप गुजरात में बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई है रविवार को और उसमें सर्व सहमति से यहां पर भाजपा नेता पहली बार विधायक बने भूपेंद्र पटेल को चयन किया गया मुख्यमंत्री पद के लिए और जहां पर आज शपथ ग्रहण समारोह में यहां पर सभी विधायक मौजूद थे और यहां पर कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी मौजूद थे और यहां पर केंद्रीय कैबिनेट मंत्री मौजूद रहे मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली यहां पर है मंत्रिमंडल के बारे में भी जानकारी सामने आई है मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर शपथ ग्रहण का कार्यक्रम दो दिन बाद में किया जाएगा ऐसे में जहां पर है केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव नरेंद्र सिंह तोमर पहलाद जोशी भी मौजूद रहे

 

गुजरात में 1 साल बाद में दिसंबर में चुनाव होने वाले हैं ऐसे में यहां पर बीजेपी ने एक बार फिर यहां पर अपनी राजनीति खेली है और बीजेपी ने यहां पर एक अलग ही दांव पर खेला है यहां पर जो पटेल पाटीदार जो समुदाय है उनके यहां पर बीजेपी को लेकर कई प्रकार से बीजेपी को वोट बैंक नहीं मिल रहा था बीजेपी ने पाटीदार समुदाय को लेकर यहां पर भूपेंद्र पटेल को अपना नेता चुना और आज मंत्रिमंडल का विस्तार अभी नहीं हुआ है बीजेपी का गुजरात में मुख्यमंत्री बनाया है 1 साल बाद में चुनाव होंगे जहां पर बीजेपी एक बार फिर गुजरात में कमल का फूल खिलाने की तैयारी कर रही है और 1 साल पहले ही यहां पर मुख्यमंत्री को बदलकर यहां एक नई राजनीति की दिशा को बदला है ऐसे में यहां पर पाटीदार समुदाय जो जहां पर बीजेपी से नाराज चल रहा है उनको पाटीदार समूह के बोर्ड अपनी तरफ करने के लिए यहां बीजेपी ने एक बार फिर यहां राजनीति में भूचाल ला दिया है गुजरात में और भूपेंद्र पटेल को अपना नेता चुनने के बाद में आज पाटीदार समूह के पहले मुख्यमंत्री बनाए हैं

 

भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने आज शपथ ग्रहण समारोह से पहले अहमदाबाद में भाजपा नेता नितिन पटेल से मुलाकात की थी उनका आशीर्वाद लिया इससे पहले गुजरात के मनोनीत मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गांधीनगर में मुख्यमंत्री आवास पर विजय रूपानी से मुलाकात करने गए थे गुजरात में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और अब की बार जो 2017 में विधानसभा चुनाव हुए थे जहां पर है यहां पर गुजरात में बीजेपी की 99 सीटें आई थी लेकिन यहां पर अभी बीजेपी को लेकर यहां बड़ा झटका लग सकता है विपक्ष की वजह से ऐसे में यहां बीजेपी ने एक बार फिर चेहरा बदला है और यहां पर चेहरा बदलने के बाद में एक राजनीतिक इन नई दिशा शुरू हो गई है ऐसे में 1 साल बाद में जब चुनाव होंगे जब पता लगेगा कि गुजरात में यहां एक बार फिर यहां बीजेपी आएगी या फिर कांग्रेस से आएगी आप सरकार बदल पाती है या नहीं बदल पाती है ऐसे में आप नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने एक बार फिर यहां पर एक नई रूपरेखा की राजनीति की तैयारी शुरू की है और जहां पर अगर यह राजनीति सफल होती है बीजेपी के लिए एक बहुत बड़ा दाव सफल होगा

 

Spread the love
Copyright © All rights reserved jaihindustannews | Newsphere by AF themes.