2022-06-27

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/arsmpaep/domains/jaihindustannews.com/public_html/wp-content/themes/newsphere/lib/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

सचिन तेंदुलकर का इतिहास के पन्नों में नाम और क्रिकेट का भगवान…

सचिन तेंदुलकर का इतिहास के पन्नों में नाम और राज दर्ज है सचिन तेंदुलकर को मास्टर ब्लास्टर भी कहा जाता है और इन्हें सचिन रमेश तेंदुलकर भी कहते है सचिन का जन्म 24 अप्रैल 1973 में हुआ था।

इन्हें भारत रत्न से सम्मानित भी किया गया है सचिन तेंदुलकर को लोग अनेक नामों से जानते हैं लोग उन्हें क्रिकेट का भगवान और लिटिल मास्टर व मास्टर ब्लास्टर भी कहते हैं। उन्हें पूरा वर्ल्ड जानता है सचिन तेंदुलकर दाएं हाथ के बल्लेबाज है और वह क्रिकेट के खेल के के रूप में महानतम खिलाड़ियों में उनकी गिनती होती है।

वह क्रिकेट में माहिर खिलाड़ी माने जाते हैं 1989 में सचिन तेंदुलकर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की थी और उन्होंने कई कीर्तिमान स्थापित किए है तेंदुलकर के नाम एकदिवसीय क्रिकेट मैचों में समय सर्वाधिक शतक का रिकॉर्ड भी है और टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है उन्होंने सबसे पहले अंतरराष्ट्रीय मैच की शुरुआत पाकिस्तान के खिलाफ कराची में की थी।

उसके बाद सचिन तेंदुलकर क्रिकेट के मैदान में ताबड़तोड़ पारियों के से
जाने जाने लगे और भारतीय टीम को कई ऊंचाइयों पर भी ले गए कई ऐसी परिया भी खेली जिससे भारतीय टीम को कई मैच जिताएं सर्वश्रेष्ठ टीमों में भारतीय टीम की गिनती शुरू हो गई मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने भारतीय क्रिकेट भारतीय टीम के लिए कई ऐसी पारी भी खेली है जिनसे भारतीय टीम को कई मैचों में सफलता भी मिली है।

इंडिया टीम को क्रिकेट में सचिन ने अपनी पूरी जिंदगी दे दी और वह क्रिकेट के इतने ही शौकीन है और वह क्रिकेट के मैदान में यह नहीं सोचते कि मैं कैसे क्या खेल रहा हूं वह सिर्फ अपना प्रदर्शन करते जाते हैं और कितने क्या रन होते हैं वह यह भी नहीं सोचते। सचिन कई बार 90 का शिकार भी हो चुके हैं।

2011 में वर्ल्ड कप में टीम के खिलाड़ी के रूप में उनकी अगवाई में वर्ल्ड कप जीता और ट्रॉफी के साथ उन्हें सम्मानित किया गया 2003 के वर्ल्ड कप में इंडिया फाइनल तक पहुंच गयी थी पर वह मैच इंडिया जीत नहीं सकी थी इस वजह से 2003 में इंडिया को वर्ल्ड कप का इंतजार ही करना पड़ा और 2011 में इंडिया ने वर्ल्ड कप जीता और इतिहास फिर बनाया और इंडिया सफल हुई सचिन तेंदुलकर का भी सपना सफल हुआ।

तेंदुलकर को 2012 में कांग्रेस सरकार ने राज्यसभा का सदस्य बनाया सचिन तेंदुलकर आईपीएल में भी मुंबई इंडियंस के कप्तान के रूप में आईपीएल मैच खेले और 2010 में मुंबई इंडियन को फाइनल तक भी पहुंचाया 2012 में सचिन ने क्रिकेट से संन्यास लिया था ऐसे कई कीर्तिमान उपलब्धियां क्रिकेट के इतिहास में सचिन के नाम से है।

सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली सहवाग इन तीनों की जोड़ी ने भारतीय क्रिकेट टीम को बहुत आगे तक पहुंचाया और इंडियाके लिए उन्होंने अपना पूरा योगदान दिया इनके पुराने मैच देखकर लोग उनकी यादों को तरोताजा करते हैं। सचिन तेंदुलकर के नाम से कई विश्व रिकार्ड भी बने हुए हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights reserved jaihindustannews | Newsphere by AF themes.